गुरुवार, 28 जनवरी 2010

मैंने ५० पोस्ट पूरी करी हैं तो आपको शुभकामना देनी ही पड़ेगी।

६ जनवरी २०१० को मैंने हिंदी ब्लोगिंग में कदम रखा। अंग्रेजी ब्लोगिंग तो मैंने पहले भी करी थी परन्तु प्रोत्साहन न मिलने के कारन मैंने ब्लॉग को बीच में ही बंद कर दिया। फिर मैंने एक अंग्रेजी ब्लॉग बनाया परन्तु ६ जनवरी से उस पर एक भी पोस्ट नहीं करी। हिंदी ब्लोगिंग में आते ही प्रोत्साहन मिला और २३ दिन में मैंने ५० पोस्ट कर डाली। २३ दिन में मैंने यहाँ बहुत कुछ देखा और बहुत कुछ पढ़ा और सिखा।

मेरी कोशिश हैं कि सार्थक लेखन करूँ। यहाँ पर मैं सबसे बातचीत करने आया हूँ। मेरी तो सबसे अपील हैं कि एक दुसरे पर दोषारोपण न करें। मुझे तो सबको पढने में बहुत मजा आता हैं। हीरों में कोहिनूर खोजने की जरुरत नहीं पड़ती। उसकी चमक ही खुद खेंच लेती हैं। यहाँ हीरे ब्लॉग भी हैं और कोहिनूर ब्लॉग भी हैं।

बहुत अच्छा लगता हैं जब सुदूर बैठे लोग आपके ब्लॉग को पढ़ते और टिप्पणी करते हैं।
टिप्पणियों से मैं ब्लॉग की कीमत नहीं तोलता। किसी भी ब्लॉग की कीमत उस पर प्रकाशित पोस्टो से होती हैं। कईं ब्लोग्स पर बहुत अच्छी बातें कही गयी हैं परन्तु टिप्पणिया दो-चार।

अब मेरा ब्लॉग कैसा हैं यह तो पाठक ही बता सकता हैं। इतना जरुर हैं कि समय के साथ लेखनी में निखार आता हैं और मुझे अभी और समय की जरुरत हैं। लेखन निरंतर चलता रहे और प्रतिदिन उत्तम होता रहे।

पाठक से सहयोग का कामना हैं। अगर आप मेरी पोस्ट में कोई कमी पाते हैं तो मुझे अवगत जरुर कराये। मैं विकासवादी आलोचना का स्वागत करता हूँ।

मैंने ५० पोस्ट पूरी करी हैं तो आपको शुभकामना देनी ही पड़ेगी। हालाँकि कोई तीर तो नहीं मारा पर अच्छा लग रहा हैं कि कुछ तो करा।

7 टिप्‍पणियां:

  1. 50 post poori karne par
    bahut-bahut shubh kamnayen

    aapki baaten pasand aayin.
    ab milna hota rahega

    aabhaar

    उत्तर देंहटाएं
  2. सन्नी भाई!
    आप का ब्लाग पढ़ा नहीं है। लेकिन अब पढ़ेंगे। 50 पोस्ट के लिए बधाई!

    उत्तर देंहटाएं
  3. तीर ही कहलाया..५० पोस्ट तो शानदार मार्का है. लगे रहो!! बहुत बधाई एवं शुभकामनाएँ.

    उत्तर देंहटाएं
  4. २२ दिन में ५० पोस्ट...लगता है साल खतम होने तक तो हजारी बाबू हो जाओगे. :)

    उत्तर देंहटाएं
  5. उडन जी ने कह ही दिया है कि अगला स्कोर क्या होगा , दोनों की डबल बधाई अभिए दिए देते हैं
    अजय कुमार झा

    उत्तर देंहटाएं
  6. सहवाग स्टाइल में पचासा , बहुत बहुत बधाई

    उत्तर देंहटाएं