बुधवार, 3 फ़रवरी 2010

द्वेष-भाव से दूर रहिये ---- हिंदी ब्लॉग जगत का भविष्य उज्जवल करिए

विवाद कहाँ नहीं होते हैं? दुनिया में कोई भी ऐसा घर नहीं होगा जहाँ विवाद हुए होकोई भी ऐसा संस्थान नहीं होगा जो विवादों की छाया से बचा होहिंदी ब्लॉग जगत कोई अपवाद नहीं
आजकल ब्लोग्वानी के "आज की हलचल" सेगमेंट में वाद-विवाद वाली पोस्ट ज्यादा दिखाई देती हैं। "आज की हलचल" सबसे ज्यादा पढ़ी जाने वाली पोस्ट्स को दिखता हैंइस सेगमेंट से बढ़िया पोस्टो तक पहुचने में आसानी होती हैंवाद-विवाद वाली पोस्टें ही ज्यादा दिखेंगी तो अच्छी और विचारनीय पोस्टें कहाँ जाएँगी। हर ब्लॉग तो हम नहीं पहुच सकते। चिट्ठाजगत के धडाधड महाराज का भी कुछ यही हाल लगता हैं

मुझे पूरा विश्वास हैं कि यह सब आने वाले दिनों में थम जायेगाविवाद ख़तम हो जायेंगेमेल-मिलाप हो जायेगासब भाई लोग एक साथ भाई वाला चारा फिर खायेंगे

इस पोस्ट के द्वारा सबसे अपील हैंवाद-विवाद ख़तम करें और हिंदी ब्लॉग जगत के उज्जवल भविष्य में अपना योगदान दे



द्वेष-भाव से दूर रहिये ---- हिंदी ब्लॉग जगत का भविष्य उज्जवल करिए


5 टिप्‍पणियां:

  1. भैये कहीं कुछ मिलेगा तो ही लङाई होती है...इसका मतलब कुछ मिल रहा है....ये तो अच्छी बात है.....

    उत्तर देंहटाएं
  2. "मुझे पूरा विश्वास हैं कि यह सब आने वाले दिनों में थम जायेगा। विवाद ख़तम हो जायेंगे। मेल-मिलाप हो जायेगा। सब भाई लोग एक साथ भाई वाला चारा फिर खायेंगे।"

    आमीन!

    उत्तर देंहटाएं
  3. द्वेष-भाव से दूर रहिये ---- हिंदी ब्लॉग जगत का भविष्य उज्जवल करिए

    -सही सलाह!

    उत्तर देंहटाएं
  4. उम्मीद करते हैं कि ये दौर भी जल्द ही गुजर जाएगा.......

    उत्तर देंहटाएं